2022

Water Helpline Number Call – 7870031117 – Har Ghar Jal Nal Yojna

नल-जल-योजन-शिकायत Bihar-Nal-Jal-Yojana-Complaint-Online

मुजफ्फरपुर में नगर निगम ने जारी किया हेल्पलाइन नंबर,

हर घर नल-जल की शिकायत है, तो इस नंबर पर करें कॉल

मुख्यमंत्री हर घर नल-जल योजना के तहत पानी नहीं आ रहा है.

पाइप लाइन कनेक्शन में किसी प्रकार की परेशानी है.

घरों के नलका में समय से पानी नहीं आ रहा है.

इस तरह की शिकायत अब लोग नगर निगम के हेल्पलाइन नंबर पर कर सकते हैं.

  • पानी नहीं से जुड़ी किसी भी तरह की शिकायत के लिए नहीं लगाना होगा चक्कर
  • प्रत्येक वार्ड में पांच जगहों पर निगम के हेल्प लाइप के साथ संवेदक का नंबर सार्वजनिक

मुजफ्फरपुर. शहर में नये हर घर नल-जल योजना को लेकर पेयजल संकट से परेशान लोगों के लिए राहत की खबर है. मुख्यमंत्री हर घर नल-जल योजना के तहत पानी नहीं आ रहा है. पाइप लाइन कनेक्शन में किसी प्रकार की परेशानी है. घरों के नलका में समय से पानी नहीं आ रहा है. इस तरह की शिकायत अब लोग नगर निगम के हेल्पलाइन नंबर पर कर सकते हैं. प्रत्येक वार्ड में पांच अलग-अलग जगहों पर योजना के नाम के साथ नगर निगम का हेल्पलाइन नंबर व संवेदक का मोबाइल नंबर दीवारों पर लिख कर सार्वजनिक किया जा रहा है.

हेल्प लाइन नंबर जारी

कई वार्डों में इसकी शुरुआत हो गयी है, ताकि लोग अपनी समस्या रख सके. मामले में नगर आयुक्त विवेक रंजन मैत्रेय ने बताया कि इस नयी व्यवस्था से लोग आसानी से अपनी समस्या रख सकते हैं. साथ ही उसका त्वरित समाधान होगा. इसके लिए निगम में एक कोषांग का भी गठन किया गया है. बता दें कि हेल्प लाइन नंबर के साथ दीवारों पर पानी का तय समय सीमा भी जारी किया गया है. जन शिकायत के लिए हेल्पलाइन नंबर 7870031117. पानी का समय सुबह 6.30 बजे से 9.30 तक. दोपहर 12 बजे से 2 बजे तक. शाम 4.30 बजे से 7.30 बजे तक

समय पर काम पूरा करने का निर्देश

मुजफ्फरपुर शहरी क्षेत्र में नल-जल योजना का काम कर रहे संवेदकों को एक पखवारे के अंदर काम पूरा कर लेने का निर्देश दिया गया है. उनको कहा गया है कि अगर काम समय पर पूरा नहीं हुआ तो ब्लैकलिस्ट किया जाएगा. नगर आयुक्त ने यह चेतावनी दी है. मुख्यमंत्री सात निश्चय से हर घर नल-जल योजना के तहत शहर के सभी वार्डों में पाइपलाइन विस्तार एवं मिनी पंप लगाने का काम चल रहा है.

Click to comment

Leave a Reply

Most Popular

To Top
%d bloggers like this: