2022

स्मार्ट कार्ड पर क्यूआर कोड, रोज 1000 डीएल-आरसी की छपाई – Driving Licence

Driving Licence Bihar Muzaffarpur

Driving License Muzaffarpur QR Card

सूबे में एक फरवरी से वन नेशन स्मार्ट कार्ड लागू है। इसपर चिप के बदले क्यूआर कोड अंकित किया गया है। क्यूआर कोड युक्त स्मार्ट कार्ड की स्कैनिंग कर आसानी से वाहन मालिक और चालक की कुंडली खंगाली जा सकती है। मुजफ्फरपुर में इसकी छपाई शुरू हो गई है। रोज करीब एक हजार ड्राइविंग लाइसेंस (डीएल) और रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट (आरसी) छापी जा रही है।

ये होंगे क्यूआर कोड के फायदे

● वन नेशन स्मार्ट कार्ड में क्यूआर कोड होगा, जिसमें यातायात नियमों के उल्लंघन संबधी सभी जानकारियां होंगी।

● बिहार सहित पूरे देश में एक ही फॉर्मेट में ड्राइविंग लाइसेंस (डीएल) और रजिस्ट्रेशन कार्ड (आरसी) होगी जारी।

● क्यूआर कोड में लाइसेंस होल्डर और वाहन मालिक की पूरी जानकारी होगी, छानबीन करना होगा और आसान।

● क्यूआर कोड की मदद से केंद्रीय ऑनलाइन डेटाबेस से ड्राइवर या वाहन का पूरा रिकॉर्ड आसानी से पढ़ा जा सकेगा।

● ड्राइविंग लाइसेंस व आरसी का रंग भी एक समान होगा, इस पर दर्ज की जाने वाली जानकारी के फॉन्ट भी तय हैं।

● दूसरे राज्यों में इसकी वैद्यता को लेकर भ्रम होगा खत्म, बिहार में अभी लागू है पीले रंग का डीएल व आरसी।

जिले में 35 हजार लंबित स्मार्ट कार्ड

35 हजार से अधिक वन नेशन स्मार्ट कार्ड प्रिंटिंग के लिए वर्तमान में लंबित हैं। हर दिन नये और कुछ पुराने कार्ड की छपाई के साथ डाक के माध्यम से डिस्पैच भी किया जा रहा है। 15 मार्च 2022 के पहले लंबित कार्ड करीब 50 हजार थे।

जिला परिवहन पदाधिकारी सुशील कुमार ने बताया कि कार्ड पर अंकित क्यूआर कोड से वाहन मालिक या लाइसेंसधारी की पूरी जानकारी सिर्फ स्कैनिंग से मिल सकेगी। डीएल पर नाम-पता के साथ ही लाइसेंस समाप्ति की तिथि, जुर्माना फाइल जैसी जानकारी भी मिल जाएगी। वहीं, आरसी में वाहन मालिक की पूरी डिटेल, मोबाइल नंबर के साथ गाड़ी का इंजन, चेचिस व रजिस्ट्रेशन नंबर भी मिलेगा। उन्होंने बताया कि इससे पहले पीला चिप युक्त स्मार्ट कार्ड लागू था। इसकी जांच करने के लिए कार्ड रीडर की आवश्यकता पड़ती थी। इसकी व्यवस्था सिर्फ परिवहन विभाग व ट्रैफिक थाने के पास ही होती थी।

Click to comment

Leave a Reply

Most Popular

To Top
%d bloggers like this: