मुज़फ़्फ़रपुर स्मार्ट सिटी बनने का सपना अधूरा रह गया!

स्मार्ट सिटी पर अबतक 21000ही सुझाव आए है जबकि इस बार प्रतियोगिता मे दावेदारी को मजबूत करने के लिए एक लाख वोट की ज़रूरत है लेकिन जिस रफ़्तार मे वोटिंग हो रही है वैसे मे लक्ष्य अनुरूप वोटिंग संभव ऩही दिख रही है वही इसमे आमलोगो और स्थानीय जन प्रतिनिधि भी रूचि नही ले रहे है 18 फ़रवरी तक ही लोग सुझाव दे सकते है इसको लेकर के निगम के प्रधान सहायक अशोक कुमार सिंह ने सहरवासीयो से अपील किया है की वेबसाइट पर जाकर discuss के option मे अपना बहुमूल्य सुझाव ज़रूर दे एक व्यक्ति अधिकतम पाँच सुझाव दे सकता है लोगो को अधिक से अधिक सुझाव प्रतियोगिता मे शहर की दावेदारी को मजबूत करेगा
आज वोटिंग की अंतिम तारीख है स्मार्ट सिटी के लिए तीसरे फेज़ की वोटिंग की समय सीमा आज समाप्त हो जाएगी शहर को स्मार्ट सिटी की दौर मे लाने के लिए शहरवासीयो के पास बस आजतक का ही समय है वोटिंग के लिए दिया गया था तीन दिन का समय दोनो   चर्णो   मे अबतक हुई मात्र 51000वोटिंग स्मार्ट सिटी के लिए वोटिंग का अंतिम समय देख लोगो ने इसमे रूचि दिखाई है युवा वर्ग सोशल साइट के मध्यम से भी शहरवासीयो को अधिक से अधिक वोटिंग के लिए प्रेरित कर रहे है युवाओ का कहना है की जिस प्रकार से बीते एक साप्ताह मे लोगो ने वोटिंग की है अगर ऐसा ही शुरू से चलता तो स्मार्ट सिटी के लिए अच्छी वोटिंग हो चुकी होती

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *